डिजिटल भारत कार्यक्रमः बदलाव की पहल-उभरते मुद्दे एवं चुनौतियाँ

  • डॉ. साहेब दुबे वाणिज्य विभाग, एम. एम. टी. डी. कॉलेज, बलिया उ.प्र

Abstract

सन् 1991 में भारत में जब उदारीकरण, निजीकरण तथा वैश्वीकरण कार्यक्रम प्रारम्भ हुआ तो साथ ही इलेक्ट्रानिक शासन का भी शुभारम्भ हुआ और तब सूचना क्रांति ने इस आयाम को एक नया जन्म दिया था। इसके उपरान्त केन्द्र एवं राज्यों में ई-शासन की अनेक परियोजनाएं प्रारम्भ की गई। लेकिन तब ये परियोजनायें नागरिक केन्द्रित थी, तथापि अपेक्षित परिणाम न दे सकी। आगे चलकर भारत सरकार ने नई राष्ट्रीय ई-शासन योजना 2006 में प्रारम्भ की और विभिन्न मंत्रालयों, विभागों में ई-शासन की व्यवस्था प्रारम्भ की।

Downloads

Download data is not yet available.
Published
2019-05-07
How to Cite
दुबे, डॉ. साहेब. डिजिटल भारत कार्यक्रमः बदलाव की पहल-उभरते मुद्दे एवं चुनौतियाँ. Journal of Social Sciences & Multidisciplinary Management Studies, [S.l.], v. 2, n. 3, p. 31-36, may 2019. Available at: <http://management.nrjp.co.in/index.php/JSSMMS/article/view/355>. Date accessed: 04 apr. 2020.
Section
Review Article